top of page
syed ajmer sharif dargah

Khwaja Garib Nawaz Miracles in Hindi - ख्वाजा गरीब नवाज के चमत्कार

ख्वाजा गरीब नवाज का चमत्कार - Khwaja Garib Nawaz Miracles in Hindi


Explore More Videos on Our Official YouTube Channel: [Ajmer Sharif Official]


Introduction

ख्वाजा गरीब नवाज के चमत्कार पूरी दुनिया में मशहूर हैं। ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के जन्म से लेकर आज तक, अल्लाह की कृपा से चमत्कार होते रहते हैं, और ख्वाजा गरीब नवाज की बरकतें कयामत तक जारी रहेंगी। अल्लाह ने अपनी रहमत ख्वाजा गरीब नवाज पर बरसाई है, और ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के भक्त दुनिया भर में पाए जाते हैं। आज भी, जिनके दिल में प्यार है, वे गरीब नवाज के चमत्कारों को सुबह और शाम देखते हैं।


Khwaja Garib Nawaz Miracles in Hindi

1. अजमेर की भूमि पर पहला चमत्कार - Miracles Khwaja Garib Nawaz

ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती (र.अ.) भारत में इस्लाम के सबसे बड़े प्रचारक और संस्थापक थे। जब ख्वाजा बाबा (र.अ.) अजमेर पहुंचे, तो राजा के ऊंटों के रखवाले ने उन्हें वहां से हटने का कहा। ख्वाजा बाबा (र.अ.) ने गुस्से में कहा, "हम यहां से जा रहे हैं, लेकिन ऊंट नहीं उठेंगे।" अगले दिन ऊंट नहीं उठे, तो राजा ने माफी मांगी, और ख्वाजा बाबा (र.अ.) ने कहा, "अब ऊंट उठेंगे।" ऊंट खड़े हो गए, और यह चमत्कार प्रसिद्ध हो गया।



2. अना सागर में पानी गायब होना - Garib Nawaz Miracle

ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती (र.अ.) अना सागर झील के किनारे बसे हुए थे। राजा ने उनके अनुयायियों को पानी लेने से मना कर दिया। ख्वाजा बाबा (र.अ.) ने अना सागर का सारा पानी एक कूज़ा (तुम्बलर) में भर लिया, और शहर के सभी जल स्रोत गायब हो गए। राजा ने माफी मांगी, और पानी की सुविधा तुरंत बहाल हो गई।


3. एक असाधारण चमत्कार - Ajmer Sharif Dargah Ziarat

मलेशिया के प्रधानमंत्री बनने के अभियान के दौरान, ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती (र.अ.) ने एक स्थानीय फकीर के माध्यम से तुन्कु अब्दुल रहमान को चुनाव जीतने का संदेश दिया। तुन्कु ने इसे मजाक समझा, लेकिन चुनाव जीतने के बाद, उन्होंने अजमेर शरीफ की यात्रा की, और यह चमत्कार सत्य सिद्ध हुआ।



4. गरीब नवाज के आदेश पर राजतिलक

ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती (र.अ.) इस उपमहाद्वीप में आध्यात्मिक राजा और राजतिलककर्ता माने जाते हैं। बिना उनकी अनुमति के कोई भी शासक सत्ता में नहीं आता। यह सिद्ध करता है कि ख्वाजा गरीब नवाज (र.अ.) की आध्यात्मिक शक्ति से ही शासकों की सत्ता चलती है।


5. मक्का तीर्थ यात्रा - Khwaja Garib Nawaz

ख्वाजा बाबा (र.अ.) ने भारत आने से पहले मक्का की दो तीर्थ यात्राएं कीं। हर साल मक्का में उनकी मौजूदगी की खबरें आती हैं, जबकि वे अजमेर में भी देखे जाते थे। यह उनकी दिव्य शक्ति को दर्शाता है।


6. हत्यारे की पश्चाताप

एक व्यक्ति, जो ख्वाजा बाबा (र.अ.) को मारने आया था, ने अपनी गलती स्वीकार की और मुस्लिम बन गया। ख्वाजा बाबा (र.अ.) ने उसे माफ कर दिया और वह उनके अनुयायी बन गया।


7. ख्वाजा कुतुबुद्दीन बख्तियार काकी (र.अ.) का बचाव

ख्वाजा कुतुबुद्दीन बख्तियार काकी (र.अ.) को झूठे आरोपों से बचाने के लिए ख्वाजा बाबा (र.अ.) ने चमत्कारिक रूप से सच्चाई उजागर की। अजमेर में उनकी शक्ति और प्रभाव को देखकर लोग हैरान रह गए।


8. महान ख्वाजा बाबा (र.अ.) की दृष्टि

ख्वाजा बाबा (र.अ.) जब भी अपने पिर-ओ-मुर्शिद की कब्र की ओर देखते थे, तो खड़े होकर सम्मान व्यक्त करते थे। उनकी इस धार्मिक आदत से उनके अनुयायियों को उनकी आध्यात्मिकता का अनुभव होता था।


9. मृतकों को पुनर्जीवित करना - Khwaja Moinuddin Chishti

एक बूढ़ी महिला के बेटे को न्याय दिलाने के लिए ख्वाजा बाबा (र.अ.) ने उसे जीवित कर दिया। इस चमत्कार से प्रभावित होकर लोग उनके चरणों में गिर पड़े।


10. शेख अली का कर्ज

ख्वाजा बाबा (र.अ.) ने अपने अनुयायी का कर्ज चुकाने के लिए अपने मट पर एक चादर फेंकी, जो सोने और चांदी के सिक्कों से भर गई। जब कर्जदाता ने लालच किया, तो उसका हाथ लकवा मार गया, लेकिन ख्वाजा बाबा (र.अ.) ने उसे माफ कर दिया।


11. भव्य आतिथ्य

ख्वाजा बाबा (र.अ.) ने अपने सादगीपूर्ण जीवन के बावजूद, अजमेर के लोगों के लिए भोजन का आयोजन करते थे। उनके पास हर दिन के खर्चों के लिए पैसे की कोई कमी नहीं थी।


12. अपरिपक्व गाय का दूध देना

अना सागर झील के पास एक युवा गाय को दूध देने के लिए कहा, और वह गाय चमत्कारिक रूप से दूध देने लगी। इस घटना से प्रभावित होकर, गाय के मालिक ने ख्वाजा बाबा (र.अ.) का अनुयायी बन गया।


13. न्याय की प्राप्ति

ख्वाजा बाबा (र.अ.) ने अपने अनुयायी को सांत्वना दी कि अन्याय करने वाले गवर्नर को पहले ही सजा मिल चुकी है। अनुयायी को घर लौटने पर गवर्नर की मौत की खबर मिली।


14. आलमगीर नामक हुज्जती

मुगल सम्राट आलमगीर ने अजमेर शरीफ की यात्रा की और ख्वाजा गरीब नवाज (र.अ.) के मकबरे को सलाम किया। उन्हें जवाब मिला, "आप पर शांति हो, आलमगीर हुज्जती।" इससे आलमगीर ने अपनी गलती मानी और माफी मांगी।


15. ख्वाजा बाबा (र.अ.) पर जादुई हमले

राजा पृथ्वी राज ने ख्वाजा बाबा (र.अ.) को हटाने के लिए जादूगर अजय पाल का सहारा लिया, लेकिन ख्वाजा बाबा (र.अ.) के चमत्कारों के सामने सभी प्रयास विफल रहे। अंत में, अजय पाल ने इस्लाम स्वीकार कर लिया और ख्वाजा बाबा (र.अ.) के अनुयायी बन गए।


FAQs


  1. ख्वाजा गरीब नवाज कौन थे?  ख्वाजा गरीब नवाज, ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती (र.अ.) एक महान सूफी संत थे, जिन्होंने भारत में इस्लाम का प्रचार किया।


2. ख्वाजा गरीब नवाज के चमत्कार क्या हैं? 

उनके कई चमत्कार हैं, जैसे ऊंटों को उठने से रोकना, अना सागर का पानी गायब करना, और मृतकों को पुनर्जीवित करना।


3. ख्वाजा गरीब नवाज की अजमेर में उपस्थिति क्यों महत्वपूर्ण है? 

अजमेर में उनकी उपस्थिति ने लाखों लोगों को प्रभावित किया और उन्हें इस्लाम स्वीकारने के लिए प्रेरित किया।


4. क्या ख्वाजा गरीब नवाज मक्का जाते थे? 

हाँ, यह माना जाता है कि वे हर साल मक्का तीर्थ यात्रा करते थे, जबकि वे अजमेर में भी देखे जाते थे।


5. ख्वाजा गरीब नवाज के अनुयायी कौन थे? 

उनके अनुयायियों में आम लोग, राजा, और अन्य संत शामिल थे, जिन्होंने उनके चमत्कारों और शिक्षा से प्रेरणा पाई।



🔗 Stay Connected & Explore More:


- Follow us on Instagram: [ Ajmer Dargah Official ]

- Like our Facebook page: [ Ajmer Sharif Official ]

- Visit Our Official YouTube Channel: [ Ajmer Sharif Official ]


- Visit our websites for more information and spiritual services:

   - [ Syed Ajmer Sharif ]

   - [ Ajmer Sharif Deg ]

   - [ Ajmer Dargah Chadar ]


🎥 More Videos:






3 views

Comments


Welcome to our blog, if you are getting knowledge from our blog, then please share it with your friends and family. Thank you

bottom of page