top of page
syed ajmer sharif dargah

Khwaja Garib Nawaz Ki History Hindi Mai |ख्वाजा गरीब नवाज़ की हिस्ट्री हिंदी मैं

Updated: Jun 8

Khwaja Garib Nawaz Ki History Hindi Mai

Khwaja Moinuddin Chishti's beloved words and teachings always bring peace to everyone's heart.


14th rajab aapki wiladat


आपका नाम सय्यदना मोईनुद्दीन हसन चिश्ती है।

ख्वाजा गरीब नवाज़ , जिन्हे कई सारे नामो से जाना जाता है , जैसे आपका लक़ब अताये रसूल , क़ुत्बुल अक़ताब , नाईबुल नबी , ख्वाजाये ख्वाजगां , हिन्दल वाली , सुल्तानुल अवलिया , और बोहोत सारे अलकबो से आपको पुकारा जाता है।



Khwaja Garib Nawaz Ki History Hindi Mai, ख्वाजा गरीब नवाज़ की विलादत ( पैदाइश ) कब हुई आफ़ताबे विलायत की जलवा नुमायी। 537 ही0 मैं रजाबुल मुरज्जब का चाँद 13 तारीख को अपनी मंज़िले कमाल तक पोहोचा संजर की बस्ती के लोग चैन की नींद सोरहे थे। रात की देहलीज़ पर तीसरे पहर ने दस्तक दी और तहज्जुद गुज़ारो की आँख खुलगयी जागने वाले सुबह सादिक जैसा उजाला देख क्र चौंक गए गुमान ये गुज़रा की आज नमाज़े तहज्जुद क़ज़ा होगयी घबरा कर खुली फ़ज़ा मैं निकल आये तो देखा की एक शुआए नूर आसमान की बेकराँ रिफतों से खते मुस्तकीम बनाये हुए गरीब नवाज़ के वालिद गिरामी हज़रत ख्वाजा गयासुद्दीन के दोलतक़दे पर मूर्तकेज़ है उसी रौशनी ने सुबह का समां पैदा कर रखा है।


khwaja garib nawaz ki  history hindi mai

ये मंज़र तहज्जुद गुज़ारो के ज़ोके तज्सूस को बेदार करके उन्हें कशां कशां मिनराये नूर तक लेगया। वहां पोहोचे तोह एक नव मौलूद बच्चे की पहली आवाज़ ने उनकी समातों के दामन पर फूल बरसाए। गरीब नवाज़ के वालिद बुज़ुर्गवार ख्वाजा सय्यद गयासुद्दीन हसन अपने घरके आँगन में बाहर सरबसुजूद थे क्युकी नेमतों का शुक्र अदा करने के लिए सजदे से बेहतर बारगाहे नईम के लिए बन्दे के पास कोई नज़राना है भी तो नहीं। दाया ने आकर विलादते फ़रज़न्द की खुशखबरी दी तोह हाज़रीन ने मुबारक बाद पेश की।


नमाज़े फज्र के बाद पूरी बस्ती में सिक़ह रवियो ने रात के मुशाहेदे की तफ्सीलात ब्यान करके ये मुबारक खबर सुनाई की अल्लाह तआला के एक बुर्गज़ीदा बन्दे की विलादत ने संजर की किस्मत जगा दी हे शाम तक हसनी हुस्सैनी बाग़ के उस गुले नव शगुफ्ता की ज़ियारत के लिए भीड़ लग गयी।


हज़रत गरीब नवाज़ रदिअल्लह तआला अन्हु की विलादत 14 रजब 537 ही0 दोशम्बा के दिन सुबह सादिक के रूह परवर उजाले में हुई।

आपका मक़ामे विलादत संजर है


Syed Khwaja Moinuddin Chishty is (Spiritual Head) of the Ajmer Sharif Dargah India And Subcontinent Khawaja Moinuddin Chishti

(Khwaja Gareeb Nawaz)


Khadim Of Khwaja Gharib Nawaz ( R.A )

Gaddi Nashin Dargah Ajmer

Syed Fakhar Nawaz Chishty

Hereditary Kaleed Bardar

Chairman Of Mere Khwaja Foundation



🔗 Stay Connected & Explore More:


- Follow us on Instagram: [ Ajmer Dargah Official ]

- Visit Our Official YouTube Channel: [ Ajmer Dargah Official ]

- Like our Facebook page: [ Ajmer Sharif Official ]

- Visit Our Official YouTube Channel: [ Ajmer Sharif Official ]


- Visit our websites for more information and spiritual services:

   - [ Syed Ajmer Sharif ]

   - [ Ajmer Sharif Deg ]

   - [ Ajmer Dargah Chadar ]


🎥 More Videos:




611 views

Commenti


Welcome to our blog, if you are getting knowledge from our blog, then please share it with your friends and family. Thank you

bottom of page